Skip to main content

Posts

My compositions,meri Rachnayen

Recent posts

lyrics on jaane-jaanaa jane jana par geet )

             जाने -  जाना  ओ मेरी जाने जाना ,मकसद है तुझको पाना  दूर मुझसे ना जाना,अब तू ही है मेरा ठिकाना  ओ मेरी जाने जाना ,मकसद है तुझको पाना  दूर मुझसे ना जाना , अब तू ही है मेरा ठिकाना  तू ही है मेरा खजाना , और मैं  ही हू तेरा दीवाना  करीब है तुझे लाना , दिल मुझसे तू लगाना  करीब मेरे तू आना , अब ना चलेगा कोई बहाना  तुझको ही मैंने माना , मेरा जीवन तू जगमगाना   श्रृंगार कर, मेरे करीब तू आना, फिर दूर तू  ना जाना  ओ मेरी  जाने जाना , मकसद है तुझको पाना  दूर मुझसे ना जाना , अब तू ही है मेरा ठिकाना   छेडू मैं कोई तराना , सजधज के तू मेरे पास आना  जीवन है आना-जाना, अब जल्दी ही तुझको है पाना  घर मेरा तू ही सजाना , रोशनी मेरे द्वारे तू ही लाना  तुझको डालू मैं दाना , तू करती है कितने बहाना  खुशबू तेरी आना , कर देती है मुझको दीवाना  ओ मेरी जाने जाना ,मकसद है तुझको पाना  दूर मुझसे ना जाना , अब तू ही है मेरा ठिकाना   तुझको ही मैंने माना , तेरे लिए गाऊ मैं गाना  मैं हूँ तेरा दीवाना , मेरा जीवन तू ही सजाना  मेरे करीब तो आना , खुशबू से मेरा घर महकाना  पनघट मेरे तू आना , अब

lyrics on my condition ( mera haal par geet )

          मेरा हाल  तेरे बिना, ये क्या हो  गया है, मेरा हाल अब तो रहता नहीं है, खुद का भी ख्याल  तेरे बिना, ये क्या हो  गया है, मेरा हाल अब तो रहता नहीं है, खुद का भी ख्याल  मैंने क्यों, तुझसे किया था ये प्यार  बेवफा क्यों निकला है, मेरा ये यार  अब तो सब हो गया है, बिलकुल बेकार  तेरे मेरे बीच में, हो गई है ये तकरार  अब तो तेरी यादें बन गई है, जी का जंजाल  तेरे बिना, ये क्या हो  गया है, मेरा हाल अब तो रहता नहीं है, खुद का भी ख्याल  प्यार में मेरा क्यों दिल तोड़ा है, ओ बेवफा  प्यार में तू क्यों हो गई है , मुझसे खफा  प्यार में क्यों तूने दी, मुझको ऐसी सजा  मेरे गम की, अब तो तुम बन गई हो वजा  मुझे हमेशा रहेगा , तेरी बेवफाई का मलाल  तेरे बिना, ये क्या हो  गया है, मेरा हाल अब तो रहता नहीं है, खुद का भी ख्याल  तेरे प्यार में क्या सोचा था , ये क्या हो गया  तेरे प्यार के गम की दुनिया में , मैं खो गया  अब समझ में आया , प्यार होता है मायाजाल  पहले ही अच्छा था , मेरा वो जीवन खुशहाल  क्यों नहीं आया है , कभी तुझे मेरा ख्याल  तेरे बिना, ये क्या हो  गया है, मेरा हाल अब तो रह

shayari ( poetry )

शायरी क्यों दिया तूने मुझको ये झांसा  क्यों बदला तुझने ये पासा  हम तो तुझे ऐसा नहीं समझे थे  क्योकि हमे नहीं थी तुमसे ये आशा  प्रदीप कछावा  7000561914 prkrtm36@gmail.com

shayari ( poetry )

शायरी  ऐ शख्स लगातार करता रहे, अपना काम  एक दिन तू पहुँच जाएगा,अपने मुकाम  तेरे सफल होने पर  बधाई देंगे आएंगे  तुझे  लोग तमाम  प्रदीप कछावा  7000561914 prkrtm36@gmail.com

shayari ( poetry )

शायरी  मेरे प्यार को, तू ना भुलाना  बड़े प्यार से, तू हमे बुलाना  मे ईश्वर से, प्रार्थना करूंगा कि जल्दी ही तू, हमे मिलाना  प्रदीप कछावा  7000561914 prkrtm36@gmail.com

vijay bhaiya

विजय भैया  सब का प्यारा हे, विजय भैया  यारो का यारा हे, विजय भैया  सब का प्यारा हे, विजय भैया  यारो का यारा हे, विजय भैया दिल का बडा, राजा हे ये  दुश्मन का बजा देता, बाजा ये  काम इसका, निराला हे  ये तो रतलाम, वाला हे  वेलकम टाइल्स किंग हे ये  ये तो पहने सोने की रिंग हे रे  गोपियों का हे, ये सैया ऐसा हे हमारा, विजय भैया  यारो का यारा हे, विजय भैया  महफ़िल की, शान हे ये  राठौर परिवार की, आन हे ये  सब को इस पर, बडा गुमान हे  ये तो बडा, बलवान हे  ये तो, रतलाम शहर की जान हे  अब ज़रा जोर से बोलो, जय कवलका  मैया  सब का प्यारा हे, विजय भैया  यारो का यारा हे, विजय भैया  इनकी मुस्कराहट हे, बड़ी प्यारी  ये तो यारो संग लेते हे, जाम की प्याली  अब बजाओ, यारो ताली  और हम सब की भी भर दो, जाम से प्याली  माँ  कवलका, बैडा पार करती हे इनकी नैया  ऐसे प्यारे हे, हमारे विजय भैया  प्रदीप कछावा  7000561914 prkrtm36@gmail.com